इलाहाबाद-चित्रकूट

इलाहाबाद

  • इलाहाबाद को प्राचीन धर्मग्रंथों में प्रयाग, प्रयागराज और तीर्थराज के नाम से निरूपित किया गया है। इसे भारत में तीर्थों में सर्वाधिक पवित्र और पुण्यदायिनी माना गया है।
  • यह वह स्थान है जहां संगम पर गंगा, यमुना और सरस्वती नदी मिलती हैं। प्रत्येक छह साल में पड़ने वाले कुंभ और बारह साल में पड़ने वाले महाकुंभ में सबसे ज़्यादा तीर्थयात्री यहां उमड़ते हैं।
  • यह सिर्फ प्रमुख तीर्थस्थल ही नहीं बल्कि साहित्य, शिक्षा, इतिहास और संस्कृति का भी प्रमुख केंद्र है। आधुनिक भारत के निर्माण में भी इस शहर ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
  • गंगा के किनारे अकबर का किला और ऑल सैंट कैथेड्रल इस शहर के दो नायाब स्मारक हैं। यहां साल भर तीर्थयात्रियों और पर्यटकों का तांता लगा रहता है।
  • यह शहर भारत की आज़ादी के संघर्ष के कई महत्वपूर्ण पड़ावों का भी गवाह है। इनमे प्रमुख है, 1885 में इंडियन नेशनल कांग्रेस का उदय और 1920 में महात्मा गांधी का अहिंसा आंदोलन।

चित्रकूट

  • हिन्दू पौराणिक गाथाओं में इसका अलग स्थान है। महाकाव्य रामायण से भी इसका नजदीकी संबंध है। अपने प्राकृतिक सौंदर्य और देवभूमि होने से इसे नृत्य नाटकों में भी स्थान मिला है।
  • माना जाता है कि यहीं पर भगवान श्रीराम ने सीता और लक्ष्मण समेत वनवास के 14 साल बिताए थें। यहीँ पर संत अत्रि और सती अनुसुइया ने भी तपस्या की थी।
  • मंदाकिनी नदी के किनारे बसा यह शहर यूपी और एमपी तक फैला हुआ है। यह शहर मंदाकिनी नदी के तट पर बसा हुआ है, जिसे पयस्विनी नदी के नाम से भी जाना जाता है।
  • नदी किनारे घाटों की कतारें और शहर में मंदिरों की अच्छी संख्या है।
  • हनुमान धारा, कामद गिरि, स्फटिक शिला और राम घाट भी दर्शनीय स्थलों में शुमार होते हैं।

दिलचस्पी वाले स्थान

कैसे पहुंचे

कैसे पहुंचे

इलाहाबाद

हवाई मार्ग से

इलाहाबाद से बमरौली एयरपोर्ट 14 किमी दूर है। दिल्ली से इलाहाबाद के लिए नियमित उड़ानें हैं।

रेल मार्ग से

इलाहाबाद कोलकाता, दिल्ली, जयपुर, लखनऊ और मुंबई जैसे महत्वपूर्ण शहरों से रेल मार्ग द्वारा जुड़ा हुआ है।

सड़क मार्ग से

नेशनल हाईवे 2, 27 और 24 बी पर पड़ने वाला इलाहाबाद देश के सभी प्रमुख शहरों से सड़क मार्ग से जुड़ा हुआ है। प्रमुख शहरों से दूरी : आगरा 433 किमी, अयोध्या 167 किमी, भोपाल 680 किमी, कोलकाता 799 किमी, चित्रकूट 125 किमी, दिल्ली 643 किमी, जयपुर 673 किमी, झांसी 375 किमी, खजुराहो 294 किमी, लखनऊ 204 किमी, पटना 368 किमी, वाराणसी 125 किमी, कानपुर 205 किमी।

चित्रकूट

हवाई मार्ग से

यहां से नजदीकी एयरपोर्ट खजुराहो 185 कि.मी. दूर और बमरौली (इलाहाबाद) 145 कि.मी. दूर है।

रेल मार्ग से

चित्रकूट से नजदीकी स्टेशन कर्वी 8 कि.मी. और बांदा 70 कि.मी. दूर है। यह दोनों स्टेशन प्रमुख शहरों से जुड़े हुए हैं।

सड़क मार्ग से

चित्रकूट सड़क मार्ग से अच्छे से जुड़ा है। यहां से बांदा, इलाहाबाद, झांसी, वाराणसी, छतरपुर, सतना, कानपुर, फैजाबाद, लखनऊ, आगरा, मैहर आदि को नियमित बस मिलती हैं। प्रमुख शहरों से दूरी : इलाहाबाद 125 कि.मी., सतना 75 कि.मी., लखनऊ 285 कि.मी., महोबा 127 कि.मी., कलिंजर 88 कि.मी. और झांसी 274 कि.मी. दूर है।

सामान्य जानकारी

सामान्य जानकारी

इलाहाबाद

  • क्षेत्रफल: 54.83 वर्ग किमी
  • जनसंख्या: 59,59,798 (2001 की जनगणना के अनुसार)
  • समुद्र तल से ऊंचाई : 98 मीटर
  • उपयुक्त समय: नवंबर - फ़रवरी
  • पहनावा (गर्मी में) : सूती
  • पहनावा (जाड़े में): ऊनी
  • भाषा: हिन्दी, उर्दू और अंग्रेजी
  • एसटीडी कोड: 0532

चित्रकूट

  • क्षेत्रफल: 38.2 वर्ग किमी
  • जनसंख्या: 8,00,592 (2001 की जनगणना के अनुसार)
  • समुद्र तल से ऊंचाई : 207 मीटर
  • उपयुक्त समय: जुलाई से मार्च
  • पहनावा (गर्मी में) : सूती
  • पहनावा (जाड़े में): ऊनी
  • भाषा : हिन्दी, बुंदेली और अंग्रेजी
  • स्थानीय यातायात के साधन: रिक्शा, लेकिन पर्व और त्योहार के दौरान चित्रकूट, राजपुर और कर्वी से टैक्सी भी मिल जाती है।
  • एसटीडी कोड: आधा चित्रकूट यूपी तो आधा एमपी में पड़ता है।
    ऐसे में यूपी चित्रकूट में कॉल करने के लिए बांदा के कोड 0519 में 765 जोड़ना पड़ेगा।
    एमपी चित्रकूट के लिए 865 जोड़ना होगा।
    यूपी क्षेत्र का एसटीडी कोड है 05198
    तो एमपी क्षेत्र का 07670 है।

ट्रैवल डेस्क

ट्रैवल डेस्क

इलाहाबाद

गवर्नमेंट ऑफ़ यूपी रीजनल टूरिस्ट ऑफिस, टूरिस्ट बंगला, 35 एमजी मार्ग, सिविल लाइन्स, इलाहाबाद।
ई-मेल : rtoald0532@rediffmail.com

ट्रेवल एजेंसीज़

  • कृष्णा ट्रेवल एजेंसी, बाई का बाग़, इलाहाबाद।
  • वरुण ट्रेवल एजेंसी, माया बाजार, सिविल लाइन्स, इलाहाबाद।
  • ऐरोदिया ट्रेवल्स, क्लाइव रोड।
  • गुप्ता  मोटर्स, ऑटो सेल्स बिल्डिंग, 18, कानपुर रोड।
  • श्रीराम ट्रेडर्स, 93 बलरामपुर हाउस, इलाहाबाद।

चित्रकूट

ऑफिस ऑफ़ द असिस्टेंट टूरिस्ट ऑफिसर, टूरिस्ट बंगला कैंपस, चित्रकूट।

ई-मेल : rtoalld_upt@yahoo.com

खान पान व अन्य सुविधाएं

खान पान व अन्य सुविधाएं

इलाहाबाद

चाट / कचोरी-सब्जी / दम आलू / दम भिन्डी / चुरमुरा / समोसा / मिठाई / मोतीचूर के लड्डू / रबड़ी, कुल्फी / नॉन-वेजीटेरियन डिशेस जैसे : कबाब / कोफ्ता और बिरयानी / लाल अमरुद


चित्रकूट

मिठाइयां /शाकाहारी पकवान / पान

खरीदारी

खरीदारी

इलाहाबाद

खरीदारी के कुछ प्रमुख इलाके हैं सिविल लाइन्स, चौक और कटरा। इलाहाबाद अपनी नमकीन, मिठाइयां और लाल अमरुद के लिए भी प्रसिद्ध है।


चित्रकूट

चित्रकूट में खरीदारी के सीमित विकल्प हैं। सेल पर मिल रहे आइटम्स के अलावा छोटे लकड़ी के खिलौने भी बेहतरीन विकल्प हैं।

पर्व और त्योहार

पर्व और त्योहार

इलाहाबाद

हर साल जनवरी-फरवरी में संगम के तट पर माघ मेला लगता है। बारह साल में कुंभ मेला लगता है। पिछला कुंभ मेला 2013 में लगा था। इलाहाबाद का दशहरा भी चौकी प्रतिष्ठा और रामलीला के लिए प्रसिद्ध है।

चित्रकूट

  • रामायण मेला : फरवरी-मार्च
  • रामनवमी : मार्च-अप्रैल
  • दीपदान : अक्टूबर-नवंबर में दीपावली के दौरान
  • नवरात्रि : मार्च और अक्टूबर
  • विजयदशमी : अक्टूबर
  • श्रावण झूला मेला : अगस्त
  • अमावस्या मेला : हर महीने

उ. प्र. पर्यटन से जुड़ें   #uptourism   #heritagearc
अंतिम संपादन तिथि : शुक्रवार, Nov 18 2016 12:54PM