कपिलवस्तु
कपिलवस्तु प्राचीन शाक्य राजघराने की राजधानी हुआ करती थी। इसी राज परिवार के शासक शुद्धोधन सिद्धार्थ के पिता थें। सिद्धार्थ ही आगे चल कर महात्मा बुद्ध कहलाये और उन्हें शाक्यमुनि के नाम से भी जाना जाता है। शाक्य क्षेत्र छठी शताब्दी (ईसा पूर्व) में सोलह महाजनपदों में से एक था। इस राज परिवार के राजकुमार गौतम ने 29 वर्ष की आयु में कपिलवस्तु से प्रस्थान किया और आत्मज्ञान की प्राप्ति के बाद यहाँ उनका दोबारा आगमन 12 वर्षों के बाद हुआ। आज कपिलवस्तु क्षेत्र में कई गाँव शामिल हैं, जिनमे पिपरहवा, गांवरिया और सालारगढ़ मुख्य हैं।

उ. प्र. पर्यटन से जुड़ें   #uptourism   #heritagearc
अंतिम संपादन तिथि : शनिवार, Jan 21 2017 5:37PM